मंगलवार, 2 अक्तूबर 2018

जानिए क्या होता है बस्तर का लांदा और सल्फ़ी

जब भी बस्तर जाना होता है तब बस्तरिया खाना, पेय पदार्थ का स्वाद लेने का मन हो ही जाता है, चाहे, लांदा हो, सल्फ़ी हो या छिंदरस। बस्तर की संस्कृति पहचान ही अलग है। गत बस्तर यात्रा के दौरान अंचल के विशेष पेय पदार्थ एवं भोजन विकल्प सल्फी का रस तथा चावल का लांदा का स्वाद लिया गया। सल्फी का वृक्ष बस्तर अंचल में ही पाया जाता है. चावल को खमीर उठा कर उसका लांदा नामक पेय पदार्थ बनाया जाता है. हाट बाजार में ग्रामीण इसे बेचने आते हैं।

भाई चंद्रा मंडावी लांदा बनाने की रेसीपी और तरीका बताते हुए कहते हैं, लांदा बनाने के लिये चावल को पीस कर उसके आटे को भाप में पकाया जाता है, इसे पकाने के लिए चूल्हे के ऊपर मिटटी की हांड़ी रखी जाती है जिस पर पानी भरा होता है और हांड़ी के ऊपर टुकना जिस पर चावल का आटा होता है। इसे अच्छी तरह भाप में पकाया जाता है, फिर उसे ठंडा किया जाता है।

इसके पश्चात एक अन्य हंडी में पानी आवश्यकता अनुसार लेकर उसमे पके आटे को डाल देते है, साथ ही हंडी में अंकुरित किये मक्का (जोंधरा) के दाने, जिसे अंकुरित करने के लिये ग्रामीण रेत का उपयोग करते है। भुट्टे के अंकुरण के पश्चात उसे भी धुप में सूखा कर उसका भी पावडर बनाया जाता है। लेकिन इसे जांता (ग्रामीण चक्की) में पिसा जाना उपयुक्त माना जाता है। फिर इसे भी कुछ मात्रा में चावल वाले हंडी में डाल दिया जाता है। जिसका उपयोग खमीर के तौर पर किया जाना बताते है और गर्मी के दिनों में 2-3 दिन, ठण्ड में थोडा ज्यादा समय के लिए रख देते है। तैयार लांदा को 1-2 दिन में उपयोग करना होता है अन्यथा इसमें खट्टापन बढ़ जाता है। बस्तर में दुःख, त्यौहार या कहीं मेहमानी करने जाने पर भी लोग इसे लेकर चलते है। 

सल्फ़ी के विषय में बताते हुए चंद्रा मंडावी कहते हैं, वहीं सल्फी पेड़ का रस है, जो ताज़ा निकला मीठा होता है और दिन चड़ने के साथ इसमें भी कडवाहट आती जाती है। इसका उपयोग नशे के लिए तो किया जाता है पर सामाजिक क्रियाकलापों में इसकी भी भूमिका अहम् है।| इन दिनों सल्फी पेड़ की जड़ में एक बेक्टीरिया के संक्रमण के कारण सल्फी के पेड़ मर रहे है, जिस पर हमारे बस्तर के वैज्ञानिक शोध कर रहे है और जहाँ तक रोकथाम के उपाय भी खोज लिये गये है।

40 टिप्‍पणियां:

  1. क्या पता हम भी कभी इस पेय का आनन्द उठा पायें.
    सुंदर वर्णन.

    जवाब देंहटाएं
  2. बढिया आलेख । बस्तर में सच मे बहोत कुछ है ।

    जवाब देंहटाएं
  3. बढिया आलेख । बस्तर में सच मे बहोत कुछ है ।

    जवाब देंहटाएं
  4. बढिया आलेख । बस्तर में सच मे बहोत कुछ है ।

    जवाब देंहटाएं
  5. बहुत अच्छी जानकारी भाजी। वास्तव में हम पढ़े लिखे लोगों को बस्तर बहुत ही रहस्यमय लगता है। वैसे आप एक–एक रहस्य पर से परदा उठाते जाते हैं।

    जवाब देंहटाएं
  6. जबरदस्त, कभी आना हुआ तो जरूर स्वाद लेंगे इसका, वैसे सल्फी का पौधा दिखता कैसे है

    जवाब देंहटाएं
  7. इस टिप्पणी को लेखक ने हटा दिया है.

    जवाब देंहटाएं
  8. इस टिप्पणी को लेखक ने हटा दिया है.

    जवाब देंहटाएं
  9. इस टिप्पणी को लेखक ने हटा दिया है.

    जवाब देंहटाएं
  10. इस टिप्पणी को लेखक ने हटा दिया है.

    जवाब देंहटाएं
  11. इस टिप्पणी को लेखक ने हटा दिया है.

    जवाब देंहटाएं
  12. बहुत दिन से आपके पोस्ट का इंतजार है। उम्मीद है आप जल्द ही नई जानकारी के साथ आयेंगे।

    जवाब देंहटाएं
  13. आपका ब्लॉग मुझे बहुत अच्छा लगा,आपकी रचना बहुत अच्छी हैं।

    जवाब देंहटाएं
  14. इस टिप्पणी को लेखक ने हटा दिया है.

    जवाब देंहटाएं
  15. Thank you for such a great article. I enjoyed the entire post, the way you express the article with images is great. We want you to go to Barot once.

    जवाब देंहटाएं
  16. What a un image and what a great way to make a quick card! Love the way you added the sentiment x
    ccleaner pro crack
    The overall card design looks like a book cover page, I hope you like it. Download Cracks for PCs Thank you so much for visiting.
    GoldWave Crack

    जवाब देंहटाएं
  17. It was nice reading your blog. Marvelous work!. A blog is brilliantly written and provides all necessary information I really like this site. Thanks for sharing this useful post. Thanks for the effective information.
    Taxi Service in India
    Cab Service in India

    जवाब देंहटाएं