शनिवार, 2 जून 2012

ललित डॉट कॉम खबर की पुष्टि की दैनिक भास्कर ने -- ललित शर्मा

मैने दो दिन पूर्व अपनी पोस्ट धरती पर यमराज के एजेंट में डॉक्टरों द्वारा कम उम्र की महिलाओं को बीमारी का डर बता कर बच्चेदानी निकालने वाली घटना का जिक्र किया था। जिसमें मितानिनों की भूमिका की चर्चा भी की थी। मितानिनें सिर्फ़ कुछ रुपए कमीशन के लालच में गाँव से औरतों को लाकर उनकी बच्चेदानी निकलवा देती हैं इस कार्य में पूरा एक रैकेट शामिल है। जिसमें झोला छाप डॉक्टर, मितानिनें, सरकारी अस्पताल की नर्सें और नर्सिंग होम्स खोल कर बैठे डॉक्टर। सभी मिल कर लुटने का काम कर रहे है। बच्चेदानी निकालने के बाद भी मरीज जिस बीमारी के ईलाज के लिए गया था। उससे राहत नहीं मिल पाती और लुट-पिट कर घिसटते हुए बाकी जिन्दगी गुजारने पर मजबूर हो जाता है। इस खबर की पुष्टि आज दैनिक भास्कर ने अपने मुख्य पृष्ठ पर की  है। लेकिन नर्सिंग होम का नाम नहीं दिया और न ही डॉक्टर का जिक्र किया है। आवश्यकता है इन यमराजों से सावधान रहने की। पता नहीं कब कौन इनके हत्थे चढ जाए। पढिए आज के दैनिक भास्कर की मौके से रिपोर्ट।

समाचार पढने के लिए चित्र पर क्लिक करें


समाचार पढने के लिए चित्र पर क्लिक करें

20 टिप्‍पणियां:

  1. इन डाक्टरों से तो कसाई भी भले !!

    इससे घटिया हैवानियत का नंगा नाच और क्या हो सकता है ??

    उत्तर देंहटाएं
  2. पता नहीं ये हैवानियत और जिंदगी के साथ खिलवाड़ करने का सिलसिला कब और कहाँ पर जाकर रुकेगा.लेकिन इसके खिलाफ़ आवाज़ उठाना जरुरी है, सराहनीय प्रयास...जारी रखें... शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  3. आज के युग में किसी प्रोफेशनल पर भी विश्‍वास नहीं किया जा सकता .. डॉक्‍टर , वकील , ज्‍योतिषी , शिक्षक या कोई भी अपने फायदे और कमीशन के लिए उल्‍टी पुल्‍टी सलाह दे सकता है .. आम आदमी जाए तो जाए कहां ??

    उत्तर देंहटाएं
  4. ईश्वर का दर्ज़ा देते हैं लोग चिकित्सक को , मगर क्या कीजे !!

    उत्तर देंहटाएं
  5. ये राक्षस हर जगह पर है श्रीमान जी जाये तो कहां जाये? इस देश मे ऐसा ही हो रहा है। आपका बहुत बहुत आभार इस तरफ ध्यान दिलाने के लिये

    उत्तर देंहटाएं
  6. इतना सब होने के बाद् भी प्रशासन सख्त कदम नही उठाती तो इसकी पूरी जिम्मेदार प्रशासन है,

    RESENT POST ,,,, फुहार....: प्यार हो गया है ,,,,,,

    उत्तर देंहटाएं
  7. बड़ा ही दर्दनाक स्थिति, स्तुत्य प्रयास..

    उत्तर देंहटाएं
  8. सी पी ऐ ने डॉक्टर्स को भी भ्रष्टाचार के रास्ते पर लाकर छोड़ दिया है . हालाँकि मानवीय मूल्यों में भी कमी आई है .
    आपने बहुत अहम मुद्दे पर सवाल उठाये हैं .

    उत्तर देंहटाएं
  9. आपने एक और भला कम किया .इन डॉ को आपने दवाखाना के सामने बूचड़ खाना लिखना कहिये ताकि संतोष तो हो.
    सुन्दर पुरवा सूचना के लिए सभी माताओं की और से प्रणाम

    उत्तर देंहटाएं
  10. निंदनीय ..पर क्या कीजे जाना इनके पास ही पड़ेगा.

    उत्तर देंहटाएं
  11. samaj ke sajag prahri ,,abhanpur niwasi jai jai shri 108 baba lalitaeshwar nand ji maharaj ki drishti se midia jagat ki nind bhi khul gai ........is samaj hit ke sandesh ka jan hit me samne lane ke liye kotish badhai .......

    उत्तर देंहटाएं
  12. अरे भाई ललित जी, आपने कहा था तो हमने सही मान ही लिया था !

    अब दैनिक भास्कर समाचार पत्र द्वारा की गई पुष्टि के भरोसे तो हम आपपे भरोसा नहीं करते हैं ना :)

    उत्तर देंहटाएं
  13. बड़ी ही विचित्र और दुखद स्थिति है।

    उत्तर देंहटाएं
  14. अनुकरणीय पहल के लिए साधुवाद !

    उत्तर देंहटाएं
  15. अपने छोटे फायदे के लिये किसी का बडा नुकसान करना बहुत गलत है। यह अमानवीय है।

    उत्तर देंहटाएं