रविवार, 24 अक्तूबर 2010

पर्यावरण पर आलेख प्रतियोगिता----------------ललित शर्मा

मित्रों,  पर्यावरण प्रदूषण के कारण बहुत सारी समस्याएं हमें घेरती जा रही हैं, नित नए रोग जन्म लेते जा रहे जा रहे हैं। शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति हो जो निरोग हो। हमें पर्यावरण प्रदूषण के कारण हो रहे जलवायु परिवर्तन के प्रति सचेत होना पड़ेगा। पूरे विश्व में इस दिशा में बहुत कार्य हो रहे हैं। इससे बचने के लिए  हमारा   जागरुक होना अत्यावश्यक है। विगत कई दिनों मैं बच्चों के बीच पर्यावरण के प्रति जागरुक का संदेश देने वाले कार्यक्रमों में गया,तब मेरे मन में आया की ब्लॉग जगत में एक आलेख प्रतियोगिता का आयोजन किया जाए क्योंकि हमारे ब्लॉग जगत में धुरंधर लिक्खाड़ों और विद्वानों की कमी नहीं है। इसलिए हम एक आलेख प्रतियोगिता आयोजन करने जा रहे हैं। जिसमें नगद पुरस्कार दिए जाएगें और उन्हे समारोह पूर्वक सम्मानित भी किया जाएगा। यह आयोजन यहाँ होगा। जहाँ नियमित स्वीकृत आलेखों का प्रकाशन होगा। संभव हुआ तो सार्थक टिप्प्णीकारों के लिए भी पुरस्कार की व्यवस्था की जाएगी। बाकी जानकारी अगली पोस्ट में दी जाएगी।

19 टिप्‍पणियां:

  1. पर्यावरण को ध्‍यान में रखते हुए ऐसा प्रयास सराहनीय है .. हमारे ब्लॉग जगत में धुरंधर लिक्खाड़ों और विद्वानों की कमी नहीं है .. आलेखों के माध्‍यम से पर्यावरण प्रदूषण के बारे में जानकारियों और विचारों का परस्‍पर आदान प्रदान हो पाएगा .. शुभकामनाएं !!

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपका प्रयास अनुकरणीय है।...बधाई।

    उत्तर देंहटाएं
  3. पर्यावरण संरक्षण के प्रति समाज में जागरूकता लेने के लिए ऎसे प्रयासों की नितान्त आवश्यकता है.....शुभकामनाऎँ!!

    हमारे पास तो आलेख लिखा तैयार पडा है. बताईये कहाँ भेजा जाए :)

    उत्तर देंहटाएं
  4. ये एक सराहनीय कार्य है | इस प्रकार के आयोजनों से जागरूकता बढ़ेगी |

    उत्तर देंहटाएं
  5. प्रणाम,
    आपका प्रयास सच में बेहद प्रसंसनीय है, मै आपको विश्वास दिलाता हूँ कि हम यथासंभव सहयोग करने हेतु तत्पर रहेंगे, सादर निवेदन है कि आप कृपया इस विषय में अधिक जानकारी शीघ्र ही प्रकाशित करें
    गौरव ....

    उत्तर देंहटाएं
  6. ये एक सराहनीय कार्य है |
    धन्यवाद|

    उत्तर देंहटाएं

  7. आपने एकदम सच कहा है, "हमें पर्यावरण प्रदूषण के कारण हो रहे जलवायु परिवर्तन के प्रति सचेत होना पड़ेगा। पूरे विश्व में इस दिशा में बहुत कार्य हो रहे हैं। इससे बचने के लिए हमारा जागरुक होना अत्यावश्यक है।"

    इस सराहनीय प्रयास हम भी आपके साथ है

    उत्तर देंहटाएं
  8. वाह जी बहुत सुंदर कार्य कर रहे हे आप,
    धन्यवाद इस जागरुक कार्य के लिये

    उत्तर देंहटाएं
  9. एक सार्थक पहल, पर्यावरण बचेगा तो कल होगा.. हार्दिक शुभकामनाएं.

    मनोज खत्री

    उत्तर देंहटाएं
  10. अनुकरणीय प्रयास के लिए आभार ! बढ़े चलो हम सब साथ है .
    जल है तो कल है !

    उत्तर देंहटाएं
  11. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  12. धन्यवाद इस जागरुक कार्य के लिये

    उत्तर देंहटाएं
  13. बहुत अच्छा प्रयास, साधुवाद के साथ शुभकामनाये..

    उत्तर देंहटाएं