गुरुवार, 17 मार्च 2011

होली का तोहफ़ा --- ललित शर्मा

छत्तीसगढ सरकार ने बालिकाओं को शिक्षा के प्रति आकर्षित करने के उद्देश्य से सरस्वती सायकल प्रदाय योजना चलाई है। गाँव की अधिकतर बालिकाएं सायकल का अभाव होने के कारण स्कूल में पढने नहीं आ पाती। शिक्षा सभी को समान रुप से उपलब्ध हो इसके लिए सरकार की यह महत्वाकांक्षी योजना कारगर रही है।उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ के हाई स्कूलों में पढ़ाई कर रही अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति की बालिकाओं को सरस्वती सायकल प्रदाय योजना के तहत नि:शुल्क सायकलें प्रदान की जाती है। वर्ष 2007-08 से विशेष पिछड़ी जनजाति के बालकों तथा पिछड़ा वर्ग तथा अन्य वर्ग की गरीबी रेखा से नीचे के बालिकाओं को भी नि:शुल्क सायकलें प्रदान की जा रही है। 

आज शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में सायकलों का वितरण किया गया। इस कार्यक्रम में शिक्षा समिति के उपाध्यक्ष के नाते मुझे भी सायकल वितरण का अवसर मिला। नगर पंचायत अध्यक्ष राधाकृष्ण टंडन, उपाध्यक्ष मुरारी वैष्णव, प्राचार्य साहू जी, कई पार्षद, नागरिक एवं स्कूल के अध्यापक गण सायकल वितरण कार्यक्रम में शामिल हुए।इस अवसर पर 186 सायकलें वितरित की गयी। होली के अवसर पर बालिकाओं को सायकलों का उपहार दिया गया। जिससे वे बहुत प्रसन्न दिखाई दे रही थी।

प्राचार्य साहू जी, ललित शर्मा, राधाकृष्ण टंडन, मुरारी वैष्णव
सायकल के साथ बालिकाएं
नागरिकों की उपस्थिति
होली का तोहफ़ा सायकल

अतिथियों का आभार करते प्राचार्य साहू जी

25 टिप्‍पणियां:

  1. सराहनीय प्रयास , उम्मीद है क्रियावयन इमानदारी से होगा !

    जवाब देंहटाएं
  2. बहुत ही सराहनीय कार्यक्रम की सचित्र जानकारी देने के लिए आभार. ..उम्दा प्रयास

    जवाब देंहटाएं
  3. पिछड़े वर्ग की बालिकाओं के उत्थान की दिशा में बहुत सराहनीय प्रयास है ।
    शुभकामनायें ।

    जवाब देंहटाएं
  4. यह कार्य बहुत अच्छा हुआ

    जवाब देंहटाएं
  5. सराहनीय व उपयोगी प्रोत्साहन है।

    जवाब देंहटाएं
  6. आप जहाँ भी जाते हैं ..सबका कल्याण हो जाता है ...जरुर आपका हाथ भी रहा होगा इस योजना के प्रारूप में ...सरकार का यह प्रयास सराहनीय है ...आपका आभार

    जवाब देंहटाएं
  7. सराहनीय प्रयास ...बालिकाओं को शिक्षा के लिए प्रेरित करने का कारगर उपाय

    जवाब देंहटाएं
  8. बढ़िया खबर... बढ़िया झलकियाँ... बधाई भैया...

    जवाब देंहटाएं
  9. सुन्दर प्रयास बालिका शिक्षा की दिशा में।

    जवाब देंहटाएं
  10. बहुत ही बेहतरीन प्रयास रहा यह तो.... ज़बरदस्त!

    जवाब देंहटाएं
  11. दान सायकिल का बड़ा, सुन्दर और महान॥
    बालिकाओं का पहुंचना, कालेज में आसान।
    सद्भावी-डॉ० डंडा लखनवी

    जवाब देंहटाएं
  12. बालिकाओं को शिक्षा के प्रति आकर्षित करने के उद्देश्य से चाउर वाले बाबा का सराहनीय प्रयास............सायकल के आगे जाली और घण्‍टी लगा देख और खुशी..... सरकार का अहसान नहीं बालिकाओं का अधिकार मिला

    जवाब देंहटाएं
  13. एक सराहनीय और प्रशंसनीय कार्य में सहयोगी होने के लिए आपको बहुत बधाई !

    जवाब देंहटाएं
  14. ऐसे कार्य तो हर गांव में होने चाहिये। ताकि हर बच्ची को शिक्षा मिल सके।

    प्रणाम

    जवाब देंहटाएं
  15. अगर इसका क्रियान्वन सही प्रकार से हो सके तो यह प्रयास सराहनीय ही कहा जाएगा....

    जवाब देंहटाएं