रविवार, 20 मार्च 2011

होली है भई होली है रंग बिरंगी होली है ---- ललित शर्मा

सभी मित्रों को होली की हार्दिक शुभकामनाएं।



नया मौसम आया है जरा सा तुम संवर जाओ
जरा सा हम बदल जाएँ, जरा सा तुम बदल जाओ

जमी ने भी ओढ़ ली है एक नयी चुनर वासंती
गुजारिश है के फागुन में जरा सा तुम महक जाओ

नए चंदा- सितारों से सजाओ मांग तुम अपनी
परिंदों के तरन्नुम में जरा सा तुम चहक जाओ

तुम्हारे पैर की पायल नया एक राग गाती है
जरा सा हम मचल जाएँ जरा सा तुम थिरक जाओ

"ललित" के मय के प्याले में तुम भी डूब लो साकी
जरा सा हम बहक जाएँ जरा सा तुम बहक जाओ

30 टिप्‍पणियां:

  1. आपके और आपके पूरे परिवार को रंगों के पर्व होली की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपको और आपके परिवार में सब को होली की बहुत बहुत हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं !

    उत्तर देंहटाएं
  3. होली की हार्दिक शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  4. रंगों की चलाई है हमने पिचकारी
    रहे ने कोई झोली खाली
    हमने हर झोली रंगने की
    आज है कसम खाली

    होली की रंग भरी शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  5. होली की रंगीन शुभकामनाएं और बधाई ....

    उत्तर देंहटाएं
  6. "ललित" के मय के प्याले में तुम भी डूब लो साकी
    जरा सा हम बहक जाएँ जरा सा तुम बहक जाओ

    आदरणीय ललित शर्मा जी
    वाह क्या रंग जमाया है ....!
    आपको भी सपरिवार होली की हार्दिक शुभकामनायें , ईश्वर करे हम सब के जीवन में होली के रंगों की तरह प्यार , सहनशीलता और उदारता के रंग सदा बने रहें ...आपका आभार

    उत्तर देंहटाएं
  7. बाबा की तरफ से होली की शुभ कामनाएं .

    उत्तर देंहटाएं
  8. आपको और आपके परिवार को होली की बहुत बहुत हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं!

    उत्तर देंहटाएं
  9. क्या बात है ललित जी, आज तो होली का रंग जम कर चढा है ।

    तुम्हारे पैर की पायल नया एक राग गाती है
    जरा सा हम मचल जाएँ जरा सा तुम थिरक जाओ

    "ललित" के मय के प्याले में तुम भी डूब लो साकी
    जरा सा हम बहक जाएँ जरा सा तुम बहक जाओ

    उत्तर देंहटाएं
  10. बढ़िया प्रस्तुति ....होली की शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  11. होली की हार्दिक शुभकामनायें ...

    उत्तर देंहटाएं
  12. होली की सपरिवार रंगविरंगी शुभकामनाएं |

    उत्तर देंहटाएं
  13. आपको और आपके परिवार को होली की बहुत बहुत हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं!

    उत्तर देंहटाएं
  14. पायल के नए राग गाने की बात मन को छू गयी. एक बार फिर आपको सपरिवार रंग-पर्व होली की बहुत-बहुत बधाई और शुभकामनाएं .

    उत्तर देंहटाएं
  15. "ललित" के मय के प्याले में तुम भी डूब लो साकी
    जरा सा हम बहक जाएँ जरा सा तुम बहक जाओ

    डूबने को तो एक चुल्लू भी है काफी
    प्याला कहाँ है , ज़रा ये भी तो बताओ । हा हा हा !

    होली की चुलबुली , बुलबुली शुभकामनायें ।

    उत्तर देंहटाएं
  16. वल्ले वल्ले सावा सावा वल्ले वल्ले जी...
    होली की हार्दिक शुभकामनायें ...

    उत्तर देंहटाएं
  17. बहुत ही सुन्दर रचना है !
    होली की अनेक शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  18. आपको भी बहुत-बहुत मुबारक.

    उत्तर देंहटाएं
  19. होली तो अब हो...ली...

    अब क्या हुक्म है आका...

    जय हिंद...

    उत्तर देंहटाएं
  20. होली की बहुत -बहुत शुभ कामनाऐ ..

    नया मौसम आया है जरा सा तुम संवर जाओ
    जरा सा हम बदल जाएँ, जरा सा तुम बदल जाओ...

    बहुत सुंदर है यह बदला बदली ....!

    उत्तर देंहटाएं
  21. तुम्हारे पैर की पायल नया एक राग गाती है
    जरा सा हम मचल जाएँ जरा सा तुम थिरक जाओ
    "ललित" के मय के प्याले में तुम भी डूब लो साकी
    जरा सा हम बहक जाएँ जरा सा तुम बहक जाओ......

    सुन्दर अभिव्यक्ति ... हार्दिक बधाई
    होली की अनेक शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  22. सही है महाराज,
    बहकने बहकाने का यही तो मौसम है:)
    हैप्पी होली।

    उत्तर देंहटाएं
  23. बहुत बढिया, होली पर्व की घणी रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  24. ललित" के मय के प्याले में तुम भी डूब लो साकी
    जरा सा हम बहक जाएँ जरा सा तुम बहक जाओ

    ओये होए ........
    हमारे घर से पव्वा चुराकर इधर ('तुम' ?)के साथ बहका जा रहा है ......

    उत्तर देंहटाएं
  25. त्यौहार के अनुकूल सुन्दर कविता ...
    बहुत - बहुत शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं