शुक्रवार, 30 अप्रैल 2010

स्पैम मेल की रिपोर्ट करने से दोषी को होगी सजा

स्पैम मेल एक परेशानी का सबब है, लगभग सभी ई मेल धारक इससे परेशान हैं, भारत सरकार के संचार और सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री सचिन पायलट ने बताया है कि सरकार को इन्टरने्ट पर मिलने वाले स्पैम-अवांछित मेल की समस्या की जानकारी है,

यदि इसकी शिकायत की जाती है तो दोषी के खिलाफ़ कारवाई और सजा का प्रावधान है। 

राज्य सभा में इस आशय के प्रश्न का लिखित उत्तर देते हुए कहा है कि सूचना एवं प्रौद्यौगिकी अधिनियम 2000 में संशोधन कर धारा 66 क में संचार सेवाओं से स्पैम अथवा अवांछित ई मेल भेजने के लिए दंड का प्रावधान किया गया है।

यह अधिनियम पुरे भारत में लागु है और इस धारा से संबंधित मामले देश भर के पुलिस थानों में दर्ज कराए जा सकते हैं।

उत्तर में बताया गया है कि ईंटरनेट सुरक्षा के बारे में विश्वभर में लगभग 88% ईमेल ट्रैफ़िक स्पैम है।

भारत से जाने वाली वाली स्पैम ट्रैफ़िक पूरे विश्व से तैयार होने वाले कुल स्पैम ई मेल का 4% है।

व्यर्थ की ई मेल तो हमारे पास भी आती हैं, लेकिन बिना खोले ही स्पैम रिपोर्ट कर दी जाती हैं। सोशियल नेटवर्किंग साईट में सम्मिलित होने की ई मेल से अधिक परेशानी है जिसे मित्र लोग अनायास ही भेज दे्ते हैं।

एक महानु्भाव ने तो कम से कम 100 ई मेल नेटवर्किंग वेब साईट ज्वाईन करने के लिए भेजी। अंत में मुझे उनसे करबद्ध निवेदन करना पड़ा कि आप मुझे मेल ना करें।

एक महोदय चैट पर आ गए और प्रतिदिन सुबह शाम मुझसे अपनी वेब साईट ज्वाईन करने के लिए परेशान करते रहे तंग आकर मुझे उनकी चैट ही प्रतिबंधित करनी पड़ी।
 

15 टिप्‍पणियां:

  1. अच्छी वैचारिक और सभी नेट प्रयोग करने वालों के लिए उपयोगी, इस ताजा उम्दा और खोजी जानकारी आधारित रचना के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद /ब्लॉग हम सब के सार्थक सोच और ईमानदारी भरे प्रयास से ही एक सशक्त सामानांतर मिडिया के रूप में स्थापित हो सकता है और इस देश को भ्रष्ट और लूटेरों से बचा सकता है /आशा है आप अपनी ओर से इसके लिए हर संभव प्रयास जरूर करेंगे /हम आपको अपने इस पोस्ट http://honestyprojectrealdemocracy.blogspot.com/2010/04/blog-post_16.html पर देश हित में १०० शब्दों में अपने बहुमूल्य विचार और सुझाव रखने के लिए आमंत्रित करते हैं / उम्दा विचारों को हमने सम्मानित करने की व्यवस्था भी कर रखा है / पिछले हफ्ते अजित गुप्ता जी उम्दा विचारों के लिए सम्मानित की गयी हैं /

    उत्तर देंहटाएं
  2. शांत गद्दाधारी शांत.. फोटो देखकर अच्छा लगा। आपका ब्लाग पर दूसरी या तीसरी बार आया हूं। पढ़ने लायक चीज तो मिल ही जाती है।

    उत्तर देंहटाएं
  3. पर क्या करें भाई जी , किस किस स्पैमर के खिलाफ रिपोर्ट करें इतने सारे जो ठहरे |
    हर वक्त स्पेम बॉक्स भरा रहता है डिलीट करते करते थक गए पर ये स्पैमर स्पेम भेजते नहीं थकते | और तो और ऐसी मेल भी बहुत आती कि आज हमने ये लिखा पढने आ जावो अब काम धंधा छोड़ कर किस किस को पढ़ें ?

    जब इन स्पैमर्स के खिलाफ कुछ कार्यवाही होगी तभी इन पर कुछ अंकुश लगेगा |

    उत्तर देंहटाएं
  4. ऐसा रहा तो १०/२० पहचान वालों से तो अब जेल जाकर मिलना पड़ेगा. :)

    उत्तर देंहटाएं
  5. हाहा समीर जी ने सही चुटकी ली ...

    उत्तर देंहटाएं
  6. हमारी चुटकी लेने कि जरुरत नही है, हम नही भेजते वो तो खुद आई पी एल की तर्ज पर स्पैम हो जाती है.:)

    रामराम

    उत्तर देंहटाएं
  7. हर रोज 4-5 FIR लिखानी पडा करेंगी।

    प्रणाम

    उत्तर देंहटाएं
  8. ललित जी,
    ये तो बहुत ही भयंकर समस्या है। हमारे यहां भी दसेक स्पैम मेल तो आ ही जाती हैं रोजाना।

    उत्तर देंहटाएं
  9. आदरणीय ललित जी नमस्कार
    मैंने आपको यह मेल किया था, कहीं आपने स्पैम में तो नहीं डाल दिया।
    देर से मेल करने के लिये क्षमाप्रार्थी हूं। बहुत अच्छा लगा यह जानकर की आप दिल्ली आ रहे हैं। आपसे मिलकर बहुत खुशी हो्गी, जल्द बतायें कब आ रहे हैं जी। मेरा मोबाईल नंO 9871287912, 9555587912 पर काल कर लेना जी।
    Our door is always open for finest people in the world.

    प्रणाम स्वीकार करें

    उत्तर देंहटाएं
  10. अरे मुझे तो रोजाना करीब ८०,९० स्पेम आती है, सब की रिपोर्ट करता हुं, लेकिन सभी को जेल हो गई तो ब्लांगिग किस के संग करेगे जी??? ओर जब सभी जेल से छुटेगे तो मुझे बचायेगा कोन??

    उत्तर देंहटाएं
  11. ...अब क्या कहें सब कुछ तो आपने कह ही दिया है लेकिन इसका हल निकालना जरुरी है !!!

    उत्तर देंहटाएं
  12. हम भी बहुत परेशान हैं रोज कम से कम 10 मेल रोज ही आ जाती है

    उत्तर देंहटाएं