गुरुवार, 25 फ़रवरी 2010

परम गुमशुदा की तलाश

-------खुला पत्र------ 

प्रति,
पंकज मिश्रा
चिटठा चर्चाकार 
"चर्चा हिंदी चिट्ठों की"
ब्लाग वुड-भारत

विषय--चर्चा हेतु उपस्थित होने बाबत..............

प्रिय अनुज--तुम्हारी अनुपस्थिति बहुत दिन से ब्लाग जगत में है. तुम कहाँ हो? कोई खोज-खबर भी नहीं है. बिना बताये ही कहाँ चले गए? किस्से नाराजी है तुम्हे........मैंने अंतिम १ फरवरी को तुम्हारी चर्चा --भाई! गाँधी की हत्या कितनी बार करोगे? पढ़ी थी उसके बाद कोई चर्चा नहीं आई है. इसके बाद हम भी छुट्टी पर चले गए थे. आने के बाद दो-चार चर्चा हमने भी की लेकिन हमारे एक भाई के कथनानुसार हमारी चर्चा को भी किसी की नजर लग गई.  इसलिए हम फिर चर्चा नहीं लिख पाए......
अब हमारा भी स्वास्थ्य कुछ ठीक नहीं है. इसलिए चर्चा नहीं लिख पाए. तुम्हारे चाहने वाले हमे पूछते हैं कि  पंकज मिश्रा जी कहाँ है? वैसे भी होली का समय आ गया और तुम्हारी उपस्थिती आवश्यक है.....कुछ फाग राग जमाओ....और सबके साथ होली जम के मनाओ......त्यौहार का मजा लो. कहीं चूक गये तो फिर साल भर इंतजार करना पड़ेगा..
शास्त्री जी ने भी मिठाइयों का भंडार अभी से खोल दिया है. देर होने पर वंचित होना पड़ेगा. हम तो फोटो देख के ही खुश हैं. क्या करें फोटो देख कर ही शुगर बढ़ गई है.इसलिए आज दिन भर सोये रहे .अब सो के उठे तो लगा तुम्हे ही याद कर लें...इसलिए हम खुला पत्र लिख रहे हैं जहाँ कहीं भी हो हाजिर हो जाओ.......

नोट-------पंकज मिश्रा को ढूंढ़ कर लाने वाले या पता बताने वाले का 
           लिंग परिवर्तन डॉ. राजीव तनेजा द्वारा मुफ्त में किया जायेगा ..... .
दिनांक--२५/०२/२०१०                                                                                                           
स्थान--ब्लागवुड                                                                                              
होली प्रभाग                                                                                                             जारी कर्ता 
ललित शर्मा के निवेदन पर 
खोया पाया विभाग--ब्लाग वुड

8 टिप्‍पणियां:

  1. "छत्तीसगढ ब्लागर्स होली मिलन" के नाम से भी एक-दो पोस्ट प्रकाशित हों .... तो कुछ "रंग में भंग" जम जाये ... फ़िर खाई के पान ... बडा मजा आ जाये .... होली है .... होली की हार्दिक शुभकामनाएं !!!

    उत्तर देंहटाएं
  2. होली बुलेटिन!
    पंकज मिश्र लिंग परिवर्तन कराने पुणे गये हैं!

    उत्तर देंहटाएं
  3. किसी अखबार के "खोया-पाया" कालम के तहत एक विज्ञापन भी छपवा दें तो शायद पढ कर जल्दी लौट आएं :-)

    उत्तर देंहटाएं
  4. सेटेलाइट से सर्च करना पड़ेगा .... रही लिंग परिवर्तन की बात सो वो तो डाक्टर जाने हा हा

    उत्तर देंहटाएं