बुधवार, 23 जून 2010

घूमक्कड़ निकले यात्रा पर, हाल मुकाम नागपुर

बैठे बिठाये अचानक उठ कर चल लिए. कल रात ९ बजे जगदलपुर से नीरज शर्मा पहुंचे. अब अचानक घूमने जाने का कार्यक्रम बन गया. घर में बैठ कर सोचने लगे की किधर को जाया जाये? 

कुछ देर बाद तय हुआ की अभी रात को नागपुर चलते हैं. फिर नागपुर पहुच कर सोचते हैं कि कहाँ जाना है? बस फिर कार से निकल पड़े नागपुर की ओर. रात ११ बजे से २०० किलोमीटर लगातार कार मैंने चलाई फिर नीरज ने. 

सुबह ७ बजे नागपुर पहुँच पर भौसर चौक गाँधी बाग में होटल लिया. आते ही सो गए. अभी उठे हैं. तय हुआ कि गुजरात की ओर चलते हैं. अब गुजरात में कहाँ-कहाँ जाना है. यह तय कर रहे हैं.

मित्रों से गुजारिश है कि गुजरात में घुमने की जगह कौन कौन सी है? कृपया बताएं. जिससे हम अपना यात्रा मार्ग रात तक तय कर सकें. नागपुर से गुजरात के लिए कौन सा मार्ग अच्छा रहेगा? 

इसकी भी जानकारी दें. हम भी बिना योजना के ही निकल लिए. अब बताइए यह कैसी घुमक्कड़ी है. लेकिन एक हफ्ता गुजरात घूमने का मन है. जिसमे कठियावाड़ और सौराष्ट्र दोनों जगह जाना है. 

एतिहासिक स्थलों को देखने की तमन्ना है. इसलिए एतिहासिक स्थलों की जानकारी चाहिए.

नागपुर में कोई  ब्लोगर बंधू हैं तो उनके विषय में भी जानकारी दे. जिससे उनसे भी मुलाकात हो जाए. एक छोटी सी ब्लागर मीट ही सही. 

आज रात को भी नागपुर में हैं. कल सुबह हम निकल पड़ेगें आगे कि यात्रा पर. रास्ते में हम मिलते रहेंगे. सफ़र में मेरा फोन नंबर है--०९४२५५९०४६१--९७५२५१०२६१, इस पर संपर्क हो सकता है. लोटपोट साथ में हैं, नेट पर भी मुलाकात होती रहेगी.

15 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुंदर जी आप नीरज जाट से सपर्क करे वो बता देगा कि कोन सी जगह घुमने की है, वेसे गुजरात मै तो बहुत सी जगह घुमने की होगी, आप गुम आये फ़िर चित्र समेत हमे भी बताये,ताकि हमे भी पता चले कि कहां कहां घुमा जा सकता है, ओर घुमने के संग खाने पीने के बारे भी जरुर लिखे, ओर जिस होटल मे ठहरे उस के बारे भी जरुर लिखे कि केसा रहा ओर कितने मै पडा, क्योकि हम सब बाते लिखते है लेकिन यह बाते भुल जाते है, यह बाते सब से जरुरी होती है, क्योकि आप की पोस्ट को पढ कर जो भि घुमने जायेगा वो अपना वजट आसानी से बना लेगा, ओर हो सके तो उन होटलो की वेव साईड या मेल भी पोस्ट मै दे दिया करे या फ़ोन ना.
    राम राम जी की, आप की आगे की यात्रा के लिये शुभकामनाये

    उत्तर देंहटाएं
  2. ... क्या बात है "बडे मियां" नागपुर में ... फ़िर गुजरात ... शुभकामनाएं यात्रा मंगलमय हो !!!

    उत्तर देंहटाएं
  3. नागपुर की जानकारी मिले तो बताईएगा, अगले हफ़्ते हम भी नागपुर में रहेंगे

    उत्तर देंहटाएं
  4. आघातो घुमक्कड जिज्ञासा..वाह .गुजरात में बहुत कुछ है घूमने को और सबसे बढ़िया है गाँधी बाबा का आश्रम .और गुजराती थाली :).शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  5. आपकी यात्रा मंगलमय हो..अशोक बजाज

    उत्तर देंहटाएं
  6. अचानक कहां चल पडे .. आप लोगो की यात्रा मंगलमय हो !!

    उत्तर देंहटाएं
  7. यात्रा मंगलमय हो। हम ठहरे भुलक्कड़। आप ही से पूछेंगे कहाँ कहाँ घूमे।बने हे रे भाई। मौका मिलिस ते सोचे जघा जघा घूम आई।

    उत्तर देंहटाएं
  8. नागपुर से गुजरात
    गुजरात से महाराष्ट्र
    ब्लॉग्गिंग के यायावर
    सफल रहे आपका सफ़र ....

    उत्तर देंहटाएं
  9. लांग-लांग-लांग डिराईव्‍ह पर निकल पड़े हो भाई जी.

    पोस्‍ट पर चित्रों व यात्रा संस्‍मरण का इंतजार रहेगा.

    उत्तर देंहटाएं